INDIRA GANDHI CREDIT CARD YOJANA 2022: इंदिरा गाँधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना 2022 ऑनलाइन आवेदन,पात्रता एवं लाभ

INDIRA GANDHI CREDIT CARD YOJANA 2022: इंदिरा गाँधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना 2022 ऑनलाइन आवेदन,पात्रता एवं लाभ- जैसे की आप सभी लोग जानते है की कोरोनावायरस संक्रमण के कारण से प्रत्येक नागरिक का रोजगार प्रभावित हुआ है. इस कोरोनाकाल में सरकार द्वारा जनता के लिए रोजगार सर्जित करने के लिए विभिन्न प्रकार की योजनाये आरम्भ की जा रही है. आज हम आपको राजस्थान द्वारा जनता के कल्याण के लिए आरम्भ की गयी ऐसी ही योजना के बारे में जानकारी प्रदान करने जा रहे है, जिसका नाम इंदिरा गाँधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना है.सरकार द्वारा जाई इस योजना के माध्यम से प्रदेश के छोटे व्यापारियों को ऋण मुहैया करवाया जाएगा.इसकी सम्पूर्ण जानकारी के लिए आप यह लेख पढ़ सकते है. इस लेख को पढने से आप इस योजना के बारे में जान पाओगे. जैसे की इस योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन की प्रकिया, इसके अलावा इस योजना का लाभ, उद्देश्य, विशेषताएं, पात्रता, महत्वपूर्ण दस्तावेज आदि जन पाओगे. सम्पूर्ण देशवासियों को सूचित किया जाता है की आप में से जो कोई भी Indira Gandhi Credit Card Yojana का लाभ प्राप्त करना चाहता है, उनसे निवेदन है की वो शीघ्र ही इस योजना के लिए आवेदन करवाए.

INDIRA GANDHI CREDIT CARD YOJANA 2022

राजस्थान में ’इंदिरा गाँधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना’ का  शुभारम्भ राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत जी के द्वारा किया गया है.इस योजना के  माध्यम से कोरोनावायरस संक्रमण के कारण बेरोजगार हुए छोटे व्यापारियों, वेंडर्स थड़ी ठेला व्यापारियों एवं असंगठित क्षेत्र में सेवाएं प्रदान करने वाले नागरिकों को 50000 रुपए तक का ऋण उपलब्ध करवाया जाएगा, जिससे छोटे व्यापारी इस आर्थिक संकट कोरोनाकाल का सामना कर सके. राजस्थान के वित विभाग द्वारा परिपत्र भी इस योजना के संचालन के लिए जारी किया गया है. इस योजना का मुख्य उद्देश्य कोरोनाकाल में बेरोजगार हुवे युवाओ को आर्थिक संबल प्रदान करना है तथा इसके अतिरिक्त इस योजना के माध्यम से लॉकडाउन के कारण अनौपचारिक व्यापर पर पड़े दुष्प्रभाव को कम किया जा सकेगा.

राजस्थान में  इस योजना के अंतर्गत प्राप्त हुआ ऋण व्याज मुक्त होगा. यह योजना 1 वर्ष तक लागू रहेगी. इस योजना के अंतर्गत जनता को ऋण प्राप्त करने के लिए किसी भी प्रकार की गारंटी देनी की आवश्यकता नही है.इस योजना के लिए आवेदन 31 मार्च 2022 तक किया जा सकता है. इस योजना के अंतर्गत दिए गये ऋण के मोनिटोरियम की अवधि 3 महीने निर्धारित की गयी है. इस ऋण का भुगतान लाभार्थी को 12 महीने की अवधि  के अंतर्गत करना होगा.

इंदिरा गाँधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना के प्रारूप को किया गया अनुमोदित

जैसे की आप सभी लोग जानते है की इंदिरा गाँधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना को शहरी क्षेत्र में रोजगार के अवसर उपलब्ध करवाने के लिए आरम्भ किया गया है. इस योजना के अंतर्गत शहरी क्षेत्र के रेहड़ी पत्री वाले तथा सेवा क्षेत्र के बेरोजगार युवाओ को गारंटी मुक्त ऋण उपलब्ध करवाया जाएगा. इस योजना के अंतर्गत इस ऋण की राशि  50000 रुपए होगी. राजस्थान सरकार द्वारा 16 अगस्त 2021 को  इस योजना के प्रारूप का अनुमोदन कर दिया गया है. राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री आशोक गहलोत जी के द्वारा इस योजना के प्रारूप को मंजूरी भी प्रदान कर दी गयी थी. इस योजना को आरम्भ करने की घोषणा इस वर्ष के बजट में कोरोनावायरस संक्रमण को देखते हुए रोजगार, स्वरोजगार एवं रोजमर्रा की जरुरतो को ध्यान में रखकर वितीय संसाधन उपलब्ध करवाने हेतु की गयी थी.

इंदिरा गाँधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना नोडल अधिकारी एवं राशी का भुगतान

राजस्थान में इंदिरा गाँधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना का नोडल अधिकारी जिला कलेक्टर होगा. इस योजना का उपखंड अधिकारी द्वारा लाभार्थियों का सत्यापन किया जाएगा. इस योजना के अंतर्गत आने वाला खर्च राज्य सरकार द्वारा वहन किया जाएगा. इस योजना में लाभार्थी द्वारा क्रेडिट कार्ड या डेबिट कार्ड के माध्यम से ऋण की राशि की निकासी एक या दो से अधिक किस्तों में 31 मार्च  2022 तक की जा सकती है. इस योजना के अंतर्गत ऋण इ राशि का भुगतान चौथे से 15 महीने में 12 समान किस्तों में किया जाएगा.इस योजना में लाभार्थी से ऋण प्रदान करने के लिए भी प्रकिया गत शुल्क की वसूली नही की जाएगी. इस योजना में लगभग 5 लाख नागरिकों को पहले आओ पहले पाओ के आधार पर ऋण उपलब्ध करवाया जाएगा.

इस योजना के अंतर्गत अनुसूचित वाणिज्यिक बैंक, क्षेत्रिय ग्रामीण बैंक, लघु वित बैंक, सहकारी बैंक और गैर बैंकिग वित कम्पनी द्वारा ऋण उपलब्ध करवाया जाएगा. लाभार्थियों की पहचान जिला स्तर पर स्थानीय शहरी सनके द्वारा वेंडर को जारी किये ग्ग्ये प्रमाण पत्र के आधार पर की जाएगी.

KEY HIGHLIGHTS OF INDIRA GANDHI CREDIT CARD YOJANA 2021

योजना का नामइंदिरा गाँधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना
किसने आरम्भ कीराजस्थान सरकार
लाभार्थीराजस्थान के नागरिक
उद्देश्यऋण उपलब्ध करवाना
आधिकारिक वेबसाइटdipr.rajasthan.gov.in
साल2022
ऋण की राशि50000 रुपए
राज्यराजस्थान
आवेदन का प्रकारऑनलाइन / ऑफलाइन

अन्य योजनाएं:

इंदिरा गाँधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना का कार्यान्वयन

INDIRA GANDHI SHEHRI CREDIT CARD YOJANA 2022 के कार्यान्वयन के लिए युएलबी की ओर से एक अधिकृत म्युनिसिपल कमिशनर या ईओ या अन्य प्रतिनिधि की अध्यक्षता में एक स्क्रीनिंग कमेटी का गठन किया जाएगा.इस योजना में  यह स्क्रीनिंग कमेटी ऋण जारी करने का कार्य करेगी.कमेटी में जिला लीड मैनेजर, जिला उद्योग केंद्र के प्रतिनिधि, बैंक के वरिष्ठ ब्रांच मैनेजर सदस्य होगे. इसके अलवा युएलबी की ओर से अधिकृत प्रतिनिधि या डिस्ट्रिक्ट प्रोजेक्ट ओफिसर इस कमेटी के संयोजक होंगे. इस योजना में कमिटी द्वारा प्राप्त हुए आवेदनों की जाँच की जाएगी एवं भौतिक सत्यापन किया जाएगा, जिसके पश्चात लाभार्थियों को ऋण उपलब्ध करवाया जाएगा. इस योजना के कार्यान्वयन के लिए वेब पोर्टल और मोबाईल एप्प विकसित किया जाएगा. सभी शहरी क्षेत्र के अनूसुचित जाति, अनुसूचित जनजाति एवं अन्य पिछड़े वर्ग के नागरिक के लिए इस योजना का कार्यान्वयन अनुजा निगम द्वारा किया जाएगा.

इंदिरा गाँधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना के लाभार्थी

  • हेयरड्रेसर
  • रिक्शावाला
  • कुम्हार
  • खाती मोची
  • मिस्त्री
  • दर्जी
  • धोबी
  • रंग पेंट करने वाले
  • नल, बिजली की मरम्मत करने वाले आदि

INDIRA GANDHI CREDIT CARD YOJANA 2022 का उद्देश्य

इस योजना का मुख्य उद्देश्य कोरोनावायरस संक्रमण के कर्ण लगे लॉकडाउन से बेरोजगार हुए युवाओ को आर्थिक सहायता प्रदान करना है, जिससे की वह अपने व्यवसाय को पुनर्स्थापित कर सके. इस योजना के माध्यम से शहरी क्षेत्र में स्वरोजगार के अवसर को भी विकसित किया जा सकेगा. यह योजना अनौपचारिक व्यापार क्षेत्र में कोरोनावायरस संक्रमण से पड़े प्रभाव को कम करने में भी कारगर साबित होगा. इस योजना के माध्यम से प्रदेश की बेरोजगारी दर में बी कमी आएगी. सभी पात्र नागरिक इस योजना का लाभ उठाकर अपने रोजगार को पुनस्थार्पित कर सकते है. इस योजना के माध्यम से प्रदेश के नागरिकों के जीवन स्तर में भी सुधार आएगा.

इंदिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना के लाभ तथा विशेषताएं

  • इंदिरा गाँधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना 2022 को राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी के द्वारा आरंभ किया गया है।
  • इस योजना के माध्यम से कोरोनावायरस संक्रमण के कारणबेरोजगार हुए नागरिक को ₹50000 तक का ऋण उपलब्ध करवाया जाएगा।
  • इस योजना के अंतर्गत प्रदान किए जाने वाला ऋण पूरी तरह से ब्याज मुक्त होगा।
  • 31 मार्च 2022 तक इस योजना के अंतर्गत आवेदन किया जा सकेगा।
  • ऋण प्राप्त करने के लिए आपको किसी भी प्रकार की गारंटी देने की आवश्यकता नहीं है।
  • ऋण के मॉनिटोरियम की अवधि 3 महीने निर्धारित की गई है।
  • लाभार्थी को ऋण का भुगतान 12 महीने की अवधि के अंदर अंदर करना होगा।
  • जिले में इस योजना का नोडल अधिकारी जिला कलेक्टर होगा।
  • उपखंड अधिकारी द्वारा लाभार्थियों का सत्यापन किया जाएगा।
  • इस योजना के अंतर्गत आने वाला खर्च राज्य सरकार द्वारा वहन किया जाएगा।
  • क्रेडिट कार्ड या डेबिट कार्ड के माध्यम से ऋण की राशि की निकासी की जा सकती है।
  • यह निकासी एक या एक से ज्यादा किस्तों में 31 मार्च 2022 तक की जा सकती है।
  • राशि का भुगतान 4 से 15 महीने में 12 सामान किस्तों में किया जाएगा।
  • लाभार्थी को ऋण प्राप्त करने के लिए कोई भी प्रक्रिया गत शुल्क कप्तान नहीं करना होगा।
  • लगभग 5 लाख लाभार्थियों को इस योजना के माध्यम से पहले आओ पहले पाओ के आधार पर ऋण उपलब्ध करवाया जाएगा।
  • इस योजना के माध्यम से बेरोजगार हुए नागरिक आर्थिक संकट का सामना कर सकेंगे।
  • कोरोनावायरस संक्रमण के कारण लगे लॉकडाउन से व्यापार पर पड़े दुष्प्रभाव को भी इस योजना के माध्यम से कम किया जा सकता है।

Join Our WhatsApp Group

INDIRA GANDHI CREDIT CARD YOJANA 2022 की पात्रता

  • आवेदक राजस्थान का स्थाई निवासी होना चाहिए
  • उसकी आयु 18-40 वर्ष होनी चाहिए
  • इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदक की मासिक आय 15000 रुपये या फिर इससे कम होनी चाहिए
  • आवेदक की परिवार की मासिक आय 50000रुपए या फिर इससे कम होनी चाहिए
  • वह सभी छोटे व्यापारी जिनकी शहरी निकाय द्वारा प्रमाण पत्र या पहचान पत्र प्रदान किया गया है वह भी इस योजना के पात्र होगे
  • सर्वे में छूटे व्यापारी या टाउन वेंडिग कमेटी के सिफारिश पत्र वाले लाभार्थी वंडर बभी इस योजना के पात्र होगे
  • सर्वे के दौरान चयनित विक्रेता भी इस योजना के पात्र होगे (जिनको प्रमाण पत्र या पहचान पत्र जारी नही किया गया है)

महत्वपूर्ण दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • पहचान पत्र
  • आयु प्रमाण पत्र
  • मोबाईल नम्बर
  • पासपोर्ट साइज़ फोटो

इंदिरा गाँधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना के अंतर्गत आवेदन करने की प्रकिया

इस योजना के अंतर्गत प्राप्त हुए ऋण पर लाभार्थी को व्याज जमा करने की कोई आवश्यकता नही है. नगरपालिका, नगरपरिषद एवं नगर निगम की सीमा में आने वाले 5 लाख लोगो इस योजना का लाभ मिलेगा. इस योजना का क्रियान्वयन स्वायत शासन विभाग के माध्यम से किया जाएगा. इसके अलावा शहरी क्षेत्र में रहने वाले अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति एवं अन्य पिछड़ा वर्ग के लाभार्थियों के लिए अनुसूचित जाति निगम द्वारा इस योजना का क्रियान्वयन किया जाएगा.

  • यह योजना 31 मार्च 2022 तक लागू रहेगी. इस योजना के अंतर्गत केवल वेबपोर्टल एवं एंड्राइड एप के माध्यम से ही आवेदन स्वीकार किये जायेगे.
  • लाभार्थी द्वारा ई -मित्र किओस्क की भी आवेदन के लिए सहायता ली जा सकती है. इसके अलावा आवेदकों को मार्गदर्शन करने के लिए एवं शिकायत निवारण करने के लिए स्थानीय निकाय विभाग के स्तर पर एक हेल्प डेस्क बभी बने जाएगी.

Indira Gandhi Shehri Credit Card Yojana 2021 से संबंधित प्रश्न और उत्तर

Indira Gandhi Shehri Credit Card Yojana क्या है ?

इस योजना के अंतर्गत शहरी क्षेत्र के युवाओ को अपना रोजगार खोलने हेतु 50 हजार रूपये लोन दिया जाता है। लोन की राशि पर लाभार्थी को कोई ब्याज नहीं देना होता और यह लोन एक साल के लिए दिया जाता है। इस योजना का लाभ स्ट्रीट वेंडर्स और अनौपचारिक सेवाएं देने वाले बरोजगार नागरिकों को दिया जाएगा।

इंदिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना की आधिकारिक वेबसाइट क्या है ?

IGSCCY की आधिकारिक वेबसाइट dipr.rajasthan.gov.in है। इस वेबसाइट का लिंक हमने आपको अपने इस लेख में उपलब्ध करा दिया है।

Indira Gandhi Shehri Credit Card आवेदन के लिए किन दस्तावेजों की जरूरत होगी ?

आपको योजना का आवेदन करने के लिए कुछ जरूरी दस्तावेजों की जरूरत होगी जैसे –

  • पासपोर्ट साइज फोटो, मूल निवास प्रमाण पत्र, आधार कार्ड, जन्म प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र, मोबाइल नंबर,आदि।

Indira Gandhi Shehri Credit Card कब तक जारी जारी रहेगी ?

इंदिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना 31 मार्च 2022 तक जारी रहेगी।

इंदिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना के अंतर्गत कितना लोन मिलेगा ?

Indira Gandhi Shehri Credit Card Yojana के अंतर्गत लाभार्थियों को 50,000 रूपये तक का ऋण मिलेगा।

IGSCCY की फुल फॉर्म क्या है ?

IGSCCY की फुल फॉर्म Indira Gandhi Shehri Credit Card Yojana है।

अन्य योजनाएं:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here