PM Awas Yojana 2022 PMAY List 2022 URBAN & RURAL

PM Awas Yojana 2022: प्रधानमंत्री आवास योजना के अन्तर्गत केन्द्र सरकार देश के आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग, निम्न आय वर्ग तथा मध्यम आयवर्ग के व्यक्तियों को जिनके पास स्वंय का घर नही है उनको स्वयं के पक्के घर उपलब्ध कराती है। Pradhan Mantri Awas Yojana का कार्यन्वयन मोदी सरकार द्वारा दिनांक 22 जून 2015 से किया जा रहा है। प्रधानमंत्री आवास योजना का लक्ष्य वर्ष 2022 प्रत्येक पात्र परिवार को स्वंय का घर उपलब्ध कराना है। PMAY Yojana के अन्तर्गत सरकार द्वारा शहरी क्षेत्रो मे झुग्गी झोपड़ी, कच्चे मकानो मे रहने वाले और EWS, LIG तथा MIG Income Group के व्यक्तियो को सम्मिलत किया जायेगा। यदि आप भी आवास योजना ऑनलाइन फॉर्म खोज रहे है तो हम आज आपको PM Awas Yojana 2022 से सम्बंधित सभी जानकारी प्रदान करने जा रहे है.

PM Awas Yojana 2022

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं PM Awas Yojana के अंतर्गत घर खरीदने पर सरकार द्वारा होम लोन के ब्याज पर 2.67 लाख रुपए की सब्सिडी प्रदान की जाती है। राजस्थान आवास विकास परिषद इस योजना के अंतर्गत सस्ती दरों पर मकान उपलब्ध कराएगी। राजस्थान में लगभग 3516 घरों के लिए इस योजना के अंतर्गत आवेदन मांगे गए हैं। जिसकी बुकिंग 1 सितंबर 2020 से शुरू हो रही है और बुकिंग की अंतिम तिथि 15 अक्टूबर 2020 है। यह मकान राजस्थान राज्य के 19 शहरों में स्थित हैं।

इन मकानों को गरीब परिवार के लोग केवल ₹350000 में खरीद पाएंगे। वह सभी लोग जिनकी सालाना इनकम ₹300000 से कम है वह इन मकानों के लिए आवेदन के पात्र हैं। राजस्थान आवास विकास परिषद ने पहले मकान की किस्त चुकाने का समय 5 वर्ष तक रखा था जिसे बदलकर 3 वर्ष कर दिया गया है।

प्रधानमंत्री आवास योजना जनवरी 2022 अपडेट

PM Awas Yojana के अंतर्गत केंद्र सरकार द्वारा 1.07 लाख घरों के निर्माण को मंजूरी प्रदान कर दी गई है। यह निर्माण देश के 5 राज्यों में किए जाएंगे जोकि महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, आंध्र प्रदेश, उत्तराखंड एवं पुडुचेरी है। इन निर्माण को मंजूरी सेंट्रल सैंक्शनिंग एंड मॉनिटरिंग कमेटी की बैठक में दी गई। इस बात की जानकारी शहरी विकास मंत्रालय द्वारा प्रदान की गई है। यह बैठक शहरी विकास मंत्रालय के सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा की अध्यक्षता में की गई थी। इसके अलावा प्रधानमंत्री आवास योजना के कार्यान्वयन की समीक्षा शहरी विकास मंत्रालय द्वारा की गई।

  • मंत्रालय द्वारा यह जानकारी प्रदान की गई कि इस योजना के अंतर्गत 1.14 करोड़ के निर्माण को मंजूरी प्रदान की गई थी। जिसमें से 53 लाख घरों का निर्माण कार्य पूरा हो चुका है। सरकार द्वारा अब तक 7.52 करोड़ रुपए का निवेश किया गया है।
  • जिसमें केंद्र सरकार का हिस्सा 1.85 करोड़ रुपए का है। इस राशि में से केंद्र सरकार ने 1.14 करोड रुपए जारी कर दिए है। घरों के निर्माण में तेजी लाने के आदेश शहरी विकास मंत्रालय सचिव द्वारा राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों को दिए गए हैं।
  • उनके द्वारा चेन्नई, इंदौर, राजकोट, रांची, अगरतला, लखनऊ में लाइट हाउस प्रोजेक्ट के कंस्ट्रक्शन की भी समीक्षा की गई और समय सीमा के भीतर पूरे करने के आदेश दिए गए।

3.61 लाख घरों को निर्माण के लिए दी गई मंजूरी

सरकार द्वारा PM Awas Yojana के अंतर्गत दिल्ली में केंद्रीय स्वीकृति एवं निगरानी समिति की 54वीं बैठक का गठन किया गया था। इस बैठक में शहरी क्षेत्रों में 3.61 लाख घरों का निर्माण करने के 708 प्रस्तावों को मंजूरी प्रदान कर दी गई है। इस बैठक में 13 राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों ने भाग लिया था। 9 जून 2021 तक PM Awas Yojana के अंतर्गत कुल 112.4 लाख घरों के निर्माण के लिए स्वीकृति प्रदान की जा चुकी है। जिनमें से 82.5 घरों का निर्माण करने की तैयारी शुरू की जा रही है एवं 48.31 लाख घरों का निर्माण करके लाभार्थियों को सौंपा जा चुका है। घरों के निर्माण के लिए सरकार द्वारा कुल 7.35 लाख करोड़ रुपए का खर्च किया जाएगा।

इस राशि में से 1.81 लाख करोड़ रुपए केंद्र सरकार द्वारा प्रदान जाने से जिसमे से अब तक 96067 करोड़ रुपए की राशि प्रदान की जा चुकी है। आवास एवं शहरी मंत्रालय द्वारा पूरे देश में समय से आवास निर्माण का काम पूरा करने पर जोर दिया जा रहा है। इस बैठक में भूमि स्थल आकृति जनित खतरे, अंतर शहर प्रवास, जीवन की हानी आदि जैसे कारणों को ध्यान में रखते हुए राज्य एवं केंद्र शासित प्रदेशों द्वारा परियोजनाओं में संशोधन करने का प्रस्ताव भी रखा गया है।

Pradhan Mantri Awas Yojana 2022 Highlights

योजना का नाम प्रधानमंत्री आवास योजना
इनके द्वारा शुरू की गयी पीएम नरेंद्र मोदी जी के द्वारा
लॉन्च की तारीख 22 जून 2015
लाभार्थी देश के गरीब लोग
उद्देश्य पक्का घर प्रदान करना
PMAY चरण 1 की अवधि अप्रैल 2015 से मार्च 2017 तक
PMAY चरण 2 अवधि अप्रैल 2017 से मार्च 2019 तक
पीएम आवास योजना चरण 3 की अवधि अप्रैल 2019 से मार्च 2022 तक
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन
ऑफिसियल वेबसाइट https://pmaymis.gov.in/

आवास योजना जनवरी 2022 अपडेट

प्रधानमंत्री आवास योजना हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा 2015 में आरंभ की गई थी। इस योजना को आरंभ करने के पीछे सरकार द्वारा 2022 तक सभी के लिए आवास सुनिश्चित करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया था। जिसके अंतर्गत सन 2022 तक 1.12 करोड़ों घरों का निर्माण किया जाएगा। इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा शहरी क्षेत्र में से अधिक घरों के निर्माण के लिए मंजूरी दे दी गई है इस मंजूरी के बाद अब PM Awas Yojana के अंतर्गत कुल मकानों की संख्या 1.1 करोड़ हो गई है 20 जनवरी 2021 को एक बैठक हुई थी जिसमें 14 राज्य तथा केंद्र शासित प्रदेशों के अधिकारियों ने भाग लिया था.

  • इस बैठक में 1.6 लाख नए घर बनवाने का निर्णय लिया गया था इस बात की सूचना केंद्रीय आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय द्वारा प्रदान की गई है मंत्रालय द्वारा राज्यों से भी प्रोजेक्ट में संशोधन करने के लिए सुझाव मांगे गए हैं
  • प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत अब तक 41 लाख लोग घर पूरे हो चुके हैं जबकि 70 लाख घरों का निर्माण चल रहा है इस योजना के अंतर्गत निर्माण किए गए घर में सभी बुनियादी सुविधाएं मौजूद होती हैं सभी राज्य एवं केंद्र शासित प्रदेशों भी इस योजना के सफलतापूर्वक कार्यान्वयन का प्रयास कर रहे हैं सचिव द्वारा राज्य तथा केंद्र शासित प्रदेशों से अफॉर्डेबल रेंटल हाउसिंग स्कीम में तेजी लाने के लिए कहा है

प्रधानमंत्री आवास योजना नई घोषणा- PMAY

हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी का यह सपना है कि देश के हर नागरिक के पास अपना पक्का मकान हो। इसी बात को ध्यान में रखते हुए सरकार द्वारा PM Awas Yojana आरंभ की गई थी। आत्मनिर्भर भारत अभियान 3.0 में PM Awas Yojana (शहरी) के सब्सिडी के बजट में 18000 करोड रुपए बढ़ाने का निर्णय लिया गया है।  यह लाभ केवल 30 जून 2021 तक खरीदी गई आवासीय इकाइयों के लिए है। बजट की इस बढ़ोतरी से 12 लाख नए घर बनेंगे तथा 18 लाख घरों का निर्माण पूरा किया जाएगा।

बजट में वृद्धि के कारण 78 लाक नई जॉब उत्पन्न होंगी तथा 25 लाख मैट्रिक टन स्टील तथा 131 लाख मैट्रिक टन सीमेंट का इस्तेमाल होगा। जिससे कि बेरोजगारी की दर में भी गिरावट आएगी तथा उत्पादन और बिक्री में भी सुधार होगा। इस योजना के माध्यम से अर्थव्यवस्था में भी सुधार आएगा।

प्रधानमंत्री आवास योजना स्टैटिसटिक्स- PMAY

Houses Sanctioned 111.03 Lakhs
Houses Grounded 77.15 Lakhs
Houses Completed 45.01 Lakhs
Central Assistance Committed 1.8 Lakh Crores
Central Assistance Released 93433 Crores
Total Investment 7.16 Lakh Crores

प्रधानमंत्री आवास योजना उत्तर प्रदेश बजट

प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा सन 2022 तक सभी नागरिकों को घर मुहैया कराने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इस योजना को सन 2015 में आरंभ किया गया था।PM Awas Yojana के अंतर्गत सन 2022 के लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने बजट की घोषणा की है। इस योजना के अंतर्गत लगभग 17000 करोड रुपए से ज्यादा का बजट निर्धारित किया गया है। PM Awas Yojana Urban के लिए 10029 करोड रुपए का बजट निर्धारित किया गया है। PM Awas Yojana Rural के अंतर्गत 7000 करोड रुपए का बजट निर्धारित किया गया है तथा मुख्यमंत्री आवास योजना ग्रामीण के लिए 369 करोड़ रुपए का बजट निर्धारित किया गया है।

यदि आप भी PM Awas Yojana के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं तो आपको आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन करना होगा। आवेदन करने की प्रक्रिया बहुत आसान है। आप खुद भी आवेदन कर सकते हैं तथा सीएससी केंद्र के माध्यम से भी आवेदन (Urban and Rural) कर सकते हैं। आवेदन करने के लिए आपको किसी भी सरकारी कार्यालय में जाने की आवश्यकता नहीं है। इससे समय और पैसे दोनों की बचत होगी तथा प्रणाली में पारदर्शिता आएगी।

प्रधानमंत्री आवास योजना राजस्थान

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं PM Awas Yojana के अंतर्गत सरकार द्वारा देश के उन सभी नागरिकों को अपना खुद का आवास उपलब्ध करवाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है जो अपनी आर्थिक स्थिति खराब होने के कारण खुद का घर नहीं खरीद सकते। राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत जी द्वारा प्रदेश के नागरिकों को आवास उपलब्ध कराने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। यह लक्ष्य 17.58 करोड़ लाभार्थियों को आवास उपलब्ध करवाने का है।

इन 17.58 लाख परिवारों में से 10.58 लाख परिवार निर्माणधीन है और बाकी का निर्माण पूर्ण हो चुका है। प्रधानमंत्री आवास योजना से अब देश भर के नागरिकों को अपने खुद के आवास उपलब्ध हो पा रहे हैं। पूरे देश में लगभग दो करोड़ आवास PM Awas Yojana के अंतर्गत उपलब्ध करवाए गए हैं। जिसमें से 30 लाख परिवार उत्तर प्रदेश से हैं।

  • अब तक PM Awas Yojana के अंतर्गत राजस्थान के नागरिकों को 50,740 आवास प्रदान किए जा चुके हैं तथा 21,562 आवासों के निर्माण के लिए पहली किस्त की राशि प्रदान कर दी गई है। यह राशि ₹87 करोड़ की है।
  • आवास का निर्माण हो जाने के बाद यह संख्या 72,302 हो जाएगी। PM Awas Yojana के अंतर्गत नक्सल प्रभावित जिलों में 1.30 लाख रुपए आवास निर्माण के लिए प्रदान किए गए है जो कि सोनभद्र, चंदौली तथा मिर्जापुर हैं तथा बाकी जिलों के लाभार्थियों को 1.20 लाख रुपए आवास निर्माण के लिए प्रदान किए गए हैं।
  • इस योजना के अंतर्गत लाभार्थी के खाते में 3 किस्तों में राशि जमा कराई जाती है। पहली किस्त 40 हजार की, दूसरी किस्त 70 हजार की तथा तीसरी किस्त ₹10000 की है।

आवास योजना के कार्यान्वयन में यूपी को प्रथम पुरस्कार

हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा पीएम आवास योजना पुरस्कार की घोषणा की गई है और इसमें राजस्थान को इस योजना के सफलतापूर्वक कार्यान्वयन के लिए प्रथम पुरस्कार प्रदान किया गया है। उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर नगर को देश के सर्वश्रेष्ठ नगरपालिका का पुरस्कार प्रदान किया गया है। मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी द्वारा यह आश्वासन भी दिया गया है कि आगे भी इस योजना के अंतर्गत सभी लाभार्थियों के घर का निर्माण करवाया जाएगा। उन्होंने यह भी कहा है कि आवासों के निर्माण में गुणवत्ता बनाए रखने का भी प्रयास किया जाएगा। प्रदेश के वह सभी नागरिक जिनके पास आवास नहीं है उन्हें प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत आवास उपलब्ध करवाया जाएगा।

प्रधानमंत्री आवास योजना औद्योगिक विकास प्राधिकरण

औद्योगिक विकास प्राधिकरण के लिए केंद्र सरकार की PM Awas Yojana को राजस्थान में लागू किया जाएगा। अब तक औद्योगिक विकास प्राधिकरण के लिए प्रधानमंत्री आवास योजना को लागू नहीं किया गया था। अब इस योजना को औद्योगिक विकास प्राधिकरण के लिए लागू किया जाएगा। इस योजना को औद्योगिक विकास प्राधिकरण के लिए लागू करने का निर्णय उत्तर प्रदेश सरकार ने लिया है। इसके लिए सरकार द्वारा एक नीति भी बनाई गई है।

  • अब इस योजना (PM Awas Yojana) के माध्यम से गरीब परिवारों की आवास की समस्या दूर हो पाएगी। औद्योगिक विकास प्राधिकरण के लिए प्रधानमंत्री आवास योजना को कैबिनेट द्वारा मंजूरी भी दे दी गई है। जिसके लिए घरों की मांग का आकलन किया जा रहा है।
  • यह आकलन करने के बाद आवेदकों की पर्याप्त संख्या सुनिश्चित की जाएगी। प्रत्येक आवास योजना में न्यूनतम 250 घर होंगे तथा कमजोर आय वर्ग के लिए 35% एरिया होगा।
  • इस योजना के अंतर्गत विकासकर्ता को 2.5 लाख रुपए का अनुदान प्रदान किया जाएगा।
  • जिसमें ₹700000 केंद्र सरकार प्रदान करेगी तथा ₹100000 राज्य सरकार प्रदान करेगी।

उत्तर प्रदेश में घर प्रदान करने की घोषणा

इन फ्लैट में कॉर्पोरेट एरिया 22.77 वर्ग मीटर होगा। सुपर एरिया 34.07 वर्ग मीटर होगा। फ्लैट में कुल लागत ₹600000 की लगाई जाएगी। फ्लैट में भारत सरकार का अंशदान ढाई लाख रुपए होगा। इन फ्लैट्स को खरीदने के लिए रजिस्ट्रेशन फीस ₹5000 होगी। इन फ्लैट को खरीदने के लिए 30 दिन के अंदर अंदर आवेदक को ₹45000 की राशि जमा करनी होगी और बाकी के बचे हुए पैसे देने के समय 3 साल होगा। उत्तर प्रदेश आवास परिषद में लखनऊ में 816, गाजियाबाद में 624, मेरठ में 480, गोंडा में 396, मैनपुरी में 96, फतेहपुर में 96, हरदोई में 96, रायबरेली में 96, मेरठ में 96, कानपुर देहात में 48, कन्नौज में 48, उन्नाव में 48, बहराइच में 48, मऊ में 48, बलरामपुर में 48 तथा बाराबंकी में 48 घर प्रदान करने की घोषणा की है।

प्रधानमंत्री आवास योजना नई अपडेट

लॉक डाउन की वजह से प्रभाव पड़ी देश की अर्थव्यवस्था को सुधारने के लिए प्रधानमंत्री जी के द्वारा 20 लाख करोड़ रुपए के पैकेज की घोषणा की दूसरी किश्त की घोषणा देश की वित् मंत्री निर्मला सीतारमण जी के द्वारा की गयी है | इस दूसरी किश्त में PM Awas Yojana के अंतर्गत देश के प्रवासी मजदूरों और शहरी गरीबो को राहत प्रदान की जाएगी | वित् मंत्री ने कहा है कि इस PM Awas Yojana के तहत देश के जो प्रवासी मजदूर और गरीब लोग अपने रोजगार के लिए अन्य किसी शहर में जाते है तो उनके लिए सरकार किराये के घर तैयार किये जायेगे जो मजदूरों और गरीब लोगो को सस्ते किराये पर घर उपलब्ध कराये जायेगे | ताकि वे प्रवासी मजदूर कम किराया खर्च करके शहर में रह सकें।

Pradhan Mantri Awaas Yojana List

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना (पीएमएवाईजी) के तहत जारी हुई लिस्ट में आपका नाम है या नहीं, ऐसे चेक करें-

  1. सबसे पहले प्रधानमंत्री ग्राणीण आवास योजना (PMAY) की ऑफिशियल बेवसाइट https://pmayg.nic.in/ पर जाएं.
  2. बेवसाइट के ओपन होने पर होम पेज पर stakeholders सेक्शन पर क्लिक करें.
  3. फिर IAY/Beneficiary पर क्लिक करें.
  4. IAY/Beneficiary पर क्लिक करने पर नया पेज ओपन होगा. इसके बाद यहां रजिस्ट्रेशन नंबर डालें.
  5. इसके बाद नया पेज ओपन होगा, जहां आप अपना नाम चेक कर सकते हैं.
  6. अगर आपके पास रजिस्ट्रेशन नंबर नहीं है तो Advance Search ऑप्शन पर क्लिक करें और जरूरी जानकारी भरें. स्कीम टाइप सिलेक्ट करें और सबमिट कर दें.

Step to Apply Online PM Gramin Awas Yojana Application Form 2022

Step 1- Visit the Official Website Pradhan Mantri Gramin Awas Yojana i.e. https://pmayg.nic.in/.

Step 2- On the Homepage, See the option of DATA ENTRY.

Step 3- PMAY Rural online application login will be displayed on the screen.

Step 4- The user name found at the panchayat and block level will be registered with the help of a password. After login, the user name as per your convenience Change password

Step 5- See 4 options on PMAY Online Login portal first PMAY G online application, second residence verification of photo taken by you, downloading third acceptance letter, preparing order sheet for FOURTH FTO.

Step 6- Clicking on the first PMAY G online registration of these four options.

Step 7- Now, filled in four types of details First Personal Details, Second Bank A / C Details, Third Convergence Details, Fourth Details from Concern Office.

Step 8- After, fill all the information of the beneficiary registration and after selecting the head, provide all the information about the head.

प्रधानमंत्री आवास योजना आवेदन स्थिति

  • देश के जो इच्छुक लाभार्थी PM Awas Yojana के तहत अपने आवेदन की स्थिति की जांच करना चाहते है वह नीचे दिए गए तरीके को फॉलो करे ।
  • सर्वप्रथम लाभार्थी को आवास योजना की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा । ऑफिसियल वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा ।
  • इस होम पेज पर आपको Citizens assessment का ऑप्शन दिखाई देगा आपको इस ऑप्शन में से “Track Your Assessment Status” के विकल्प पर क्लिक करना होगा ।
  • ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा । इस पेज पर आपको दो विकल्प दिखाई देंगे । आप इस दोनों में से किसी भी ऑप्शन से अपने आवेदन की स्थिति देख सकते है । पहले दो विकल्पों में से “By Assessment ID” के बटन पर क्लिक करना होगा बटन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा ।
  • इस पेज पर आपको Assessment ID और मोबाइल नंबर को भरना होगा ।और फिर सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा ।अब मूल्यांकन स्थिति स्क्रीन पर दिखाई देगी और आप अपनी स्थिति देख सकते हैं।
  • इसके बाद आपको दूसरे ऑप्शन पर भी “नाम, पिता का नाम और मोबाइल नंबर” पर क्लिक कर सकते है इसपर क्लिक करने पर आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा ।
  • इस पेज पर आपको दिए गए स्थान में नाम, मोबाइल नंबर, शहर, जिला दर्ज करें और सबमिट बटन पर क्लिक करना होगा ।सबमिट बटन पर क्लिक करने पर, स्क्रीन पर मूल्यांकन का विकल्प दिखाई देगा।

यह भी देखें:

Previous articleUP POLICE HEAD OPERATOR BHARTI 2022 – यूपी पुलिस प्रधान परिचालक 936 पदों पर भर्ती
Next articleDSEU Recruitment 2022: 43 Non-Academic Posts Notification and Apply Online