Home Latest News Rajasthan Palanhar Yojana 2022 पालनहार योजना राजस्थान 2022 ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

Rajasthan Palanhar Yojana 2022 पालनहार योजना राजस्थान 2022 ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

Rajasthan Palanhar Yojana 2022

Rajasthan Palanhar Yojana 2022: राजस्थान पालनहार योजना का शुभारम्भ राज्य सरकार द्वारा राज्य के अनाथ बच्चो को लाभ पहुंचाने के लिए (State government to benefit the orphans of the state) किया गया है. Palanhar Yojana के अंतर्गत राज्य के अनाथ बच्चो को या जिनके माता पिता नही है, उन अनाथ बच्चो के पालन-पोषण, शिक्षा आदि के लिए हर महिना कुछ राशि उनके खाते में ट्रांसफर की जाती है. Rajasthan Palanhar Yojana को 8 फरवरी 2005 में लागू किया गया है. यह योजना शुरुआत में अनुसूचित जातियों के लिए चलायी गयी है. बाद में पालनहार योजना सभी श्रेणियों के लिए लागू कर दी गयी थी.

वर्तमान में यह योजना सभी लोगो के लिए लागू है, जिससे सभी अनाथ बच्चो और असहाय बच्चो को पालनहार योजना का लाभ मिल सके.

पालनहार योजना राजस्थान 2022 ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

Rajasthan Palanhar Yojana की शुरुआत राजस्थान राज्य सरकार द्वारा 8 फरवरी 2005 को शुरू की गयी थी. इस योजना के अंतर्गत विकलांग माता-पिता की सन्तानो को भी योजना का लाभ मिलेगा. आपको बता दे जब राजस्थान पालनहार योजना की शुरुआत की गयी थी तो इसमें सिर्फ अनुसूचित जाति के बच्चो को रखा गया था लेकिन बाद में इस योजना में बदलाव करके सभी श्रेणियों के अनाथ बच्चो को योजना में रखा गया है. पालनहार योजना का उद्देश्य यही है की जितने भी अनाथ बच्चे है उनकी परवरिश और पालन पोषण बेहतर तरीके से हो सके और साथ ही बच्चे को एक पारिवारिक माहौल मिल सके.

आज हम राजस्थान पालनहार योजना से जुड़ी सम्पूर्ण जानकारी इस आर्टिकल के माध्यम से आप तक पहुंचाएंगे.

Rajasthan Palanhar Yojana 2022 उद्देश्य

Rajasthan Palanhar Yojana का उद्देश्य अनाथ बच्चो के पालन-पोषण, शिक्षा आदि की व्यवस्था संस्थान नही की जाकर समाज के भीतर ही बालक-बालिकाओ के निकटतम रिश्तेदार/ परिचित व्यक्ति के परिवार में करने के लिए योग्य व्यक्ति को पालनहार बनाकर राज्य की ओर से पारिवारिक माहौल में शिक्षा, भोजन, वस्त्र व अन्य आवश्यक सुविधाएँ उपलब्ध कराना है. इसे भी देखें: 10वीं 12वीं पास भर्ती, ऑनलाइन आवेदन करें

Rajasthan Palanhar Yojana 2022 Eligibility

  • अनाथ बच्‍चे
  • न्‍यायिक प्रक्रिया से मृत्‍यु दण्‍ड/ आजीवन कारावास प्राप्‍त माता-पिता की संतान
  • निराश्रित पेंशन की पात्र विधवा माता की अधिकतम तीन संताने
  • नाता जाने वाली माता की अधिकतम तीन संताने
  • पुर्नविवाहित विधवा माता की संतान
  • एड्स पीडित माता/पिता की संतान
  • कुष्‍ठ रोग से पीडित माता/पिता की संतान
  • विकलांग माता/पिता की संतान
  • तलाकशुदा/परित्‍यक्‍ता महिला की संतान

Rajasthan Palanhar Yojana 2022 Benefits

राजस्थान पालनहार योजना के तहत अनाथ बच्चो को निम्न फायदे है:

  • 0 से 6 वर्ष के बच्चो हेतु – 1500 रुपए प्रतिमाह (आंगनबाड़ी जाना अनिवार्य है)
  • 6 से 18 वर्ष के बच्चो हेतु – 2500 रुपए प्रतिमाह (विद्यालय जाना अनिवार्य है)
  • वस्त्र, स्वेटर, जुटे आदि हेतु – 2000 रुपए वार्षिक अतिरिक्त एकमुश्त देय (विधवा पालनहार व नाता पालनहार में देय नही)

Rajasthan Palanhar Yojana 2022 Conditions (पात्रता)

  • इस योजना के तहत आवेदक राजस्थन के स्थायी निवासी होने चाहिए.
  • पालनहार परिवार की वार्षिक आय 1.20 लाख रूपये से अधिक नहीं होनी चाहिए.
  • ऐसे अनाथ बच्‍चों को 2 वर्ष की आयु में आंगनबाड़ी केन्‍द्र पर तथा 6 वर्ष की आयु में स्‍कूल भेजना अनिवार्य है.
  • बच्चे की अधिकतम आयु 18 वर्ष से कम होनी चाहिए.
  • पालनहार एवं बच्चे आवेदन की तिथि से कम से कम 3 वर्ष की अवधि से राजस्थान राज्य में रह रहे हो.

Rajasthan Palanhar Yojana 2022 Required Documents (आवश्यक दस्तावेज)

  • मूल निवास प्रमाण पत्र
  • पालनहार का आधार कार्ड (जिनके द्वारा बच्चे की परवरिश की जाएगी)
  • पहचान पत्र
  • सक्षम अधिकारी द्वारा प्रमाणित आय प्रमाण पत्र
  • राशन कार्ड
  • भामाशाह कार्ड
  • बच्चे का आधार कार्ड
  • अनाथ बच्चो के पालन-पोषण का प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर
  • बच्चे का आगनबाड़ी में पंजीकरण का प्रमाण पत्र
  • स्कूल में दाखिला का प्रमाण पत्र
  • बैंक खाते का नंबर

Other Required Document

  • पालनहार का भामाशाह नम्बर (EID/UID Number)
  • बच्चे का आधार कार्ड (UID Number)
  • आय प्रमाण पत्र (वार्षिक आय 1.20 लाख रुपए से अधिक नही होनी चाहिए)
  • पालनहार का मूल निवास प्रमाण पत्र/ राशन कार्ड/ मतदाता पहचान पत्र की प्रति
  • विधवा/तलाकशुदा/परित्यक्ता महिला हेतु सामजिक सुरक्षा पेंशन आदेश पर्याप्त होगा.
  • अनाथ बच्चो का पालन-पोषण करने का प्रमाण पत्र
  • आंगनबाड़ी केंद्र पर पंजीकरण/ विद्यालय में अध्यनरत होने का प्रमाण पत्र

How to Apply Rajasthan Palanhar Yojana 2022

जो उम्मीदवार राजस्थान पालनहार योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन करना चाहते है, वे ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर आवेदन कर सकते है. ऑनलाइन आवेदन करने के स्टेप्स नीचे दिए गये है, जिनके माध्यम से आप आसानी से आवेदन कर सकते है-

  • सबसे पहले आवेदनकर्ता योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएँ.
  • इसके बाद आपको आईडी और पासवर्ड दर्ज करके लॉगिन करना होगा.
  • इसके बाद SSO पोर्टल यहां पर खुल जाएगी. यहाँ पर आपको E-mitra new पर क्लिक करना होगा.
  • अब आपको Avail Service पर जाएँ और सर्च रिजल्ट में Utility-Social Justice And Empowerment Department Palanhar Registration के विकल्प का चयन करना होगा.
  • अब आपके नए स्क्रीन पर राजस्थान पालनहार का फॉर्म खुल जायेगा.
  • अब आपको फॉर्म में सभी पूछी गयी जानकारी दर्ज करनी होगी उसके बाद आप दस्तावेज भी अपलोड कर दे.
  • इसके बाद आपको बच्चे का आधार कार्ड और भामाशाह कार्ड दोनों का सत्यापन करना होगा.
  • इसके पश्चात् आगे की सभी जानकारी दर्ज करके अंत में सब्मिट के बटन पर क्लिक कर दे.
  • इस प्रकार आपका रजिस्ट्रेशन हो जायेगा.

How to Check Application Status Rajasthan Palanhar Yojana 2022

आप घर बैठे राजस्थान पालनहार योजना 2022 का स्टेट्स चेक कर सकते है. आपका पेमेंट आया या नही आया आपके फ़ोन में कोई ऑब्जेक्शन तो ही है यह सब आप आसानी से चेक कर सकते है. इसके लिए आपके पास में एप्लीकेशन आईडी और जन आधार कार्ड होना जरूरी है.

Some Useful Important Links

पालनहार योजना आवेदन की स्थिति जानने के लिए Click Here
पालनहार योजना पात्रता, नियम, जिलेवार अपने क्षेत्र की सूची एवं सम्पूर्ण जानकारी देंखें Click Here
Palanhar Yojana Status Click Here
Official Website Click Here
Join Telegram / WhatsApp Group Click Here
Home Page Click Here

FAQs

राजस्थान पालनहार योजना 2022 का स्टेट्स कैसे चेक करें?

राजस्थान पालनहार योजना 2022 का स्टेट्स करने का सीधा लिंक ऊपर उपलब्ध करवा दिया गया है.

राजस्थान पालनहार योजना 2022 शुभारम्भ कब किया गया?

राजस्थान पालनहार योजना 2022 का शुभारम्भ 8 फरवरी 2005 में किया गया.

राजस्थान पालनहार योजना 2022 का उद्देश्य क्या है?

राजस्थान पालनहार योजना 2022 का उद्देश्य अनाथ बच्चो का पालन-पोषण करना है.

No comments